रक्षा बंधन पर बहनें भाई की कलाई पर राखी बांधती है और उसकी लंबी उम्र की कामना करती है. इसके बदले में भाई अपनी बहनों को उसकी रक्षा का वचन देते हैं

भाई-बहन के प्रेम का प्रतीक रक्षा बंधन का त्योहार इस साल 11 अगस्त दिन गुरुवार को मनाया जाएगा.

रक्षा बंधन का त्योहार इसलिए भी खास होने वाला है, क्योंकि इस बार त्योहार रवि योग में मनाया जाएगा.

रक्षा बंधन का त्योहार सावन मास की पूर्णिमा तिथि को मनाया जाता है. 

इस वर्ष सावन मास के शुक्ल पक्ष की पूर्णिमा तिथि गुरुवार, 11 अगस्त को सुबह 10:38 से प्रारंभ होकर शुक्रवार, 12 अगस्त को सुबह 07:05 मिनट पर समाप्त होगी.

 उदया तिथि होने के कारण रक्षा बंधन का शुभ पर्व 11 अगस्त को ही मनाया जाएगा.

रक्षा बंधन पर अबूझ मुहूर्त को ध्यान में रखकर राखी बांधना शुभ माना जाता है. इस बार राखी बांधने का शुभ मुहूर्त सुबह 09 बजकर 28 मिनट से लेकर रात 09 बजकर 14 मिनट तक रहेगा.

इस दिन सुबह 05 बजकर 48 मिनट से 06 बजकर 53 मिनट तक रवि योग रहेगा. जबकि शाम 06 बजकर 55 मिनट से रात 08 बजकर 20 मिनट तक अमृत योग रहेगा.

रक्षा बंधन के त्योहार में भद्रा का विशेष ध्यान रखा जाता है. शास्त्रों के मुताबिक, भद्राकाल में राखी नहीं बांधनी चाहिए.